Archives

मूल्य

एकदम सीधा सादा जीवन
जैसे सीधी रेल की पटरी।
पर,
सराहना तभी हुई
जब
एकदम सीधी लकीर दिखाई दी
उसके
कार्डियो ग्राम में!
©आरती परीख 8.१०.२०१८

Advertisements

दोपहर

सूरजदेव
खजूरी पर चढा
पसीना छूटे
~~
दोपहर में
सिर पे खडा़ रवि
तप्त धरती
©आरती परीख ४.१०.२०१८

स्वछता अभियान

मुग्ध लहरें
रेत चट्टानों बीच
पग पखारे
©आरती परीख ४.१०.२०१८

सुनहरी यादें

ढलती उम्र
गौरव भरी यादें
जोश जगाये
©आरती परीख ३.१०.२०१८

ऐनक

आंखोँ के भाव
बेखूबी छूपा रहा
काला ऐनक
©आरती परीख ३.१०.२०१८

सन्नाटा

अनगिनत
कहानियाँ निगलें
सन्नाटा खडा़
©आरती परीख २.१०.२०१८

अमीरी

मुस्कुरा रहे
नंगा-बुंगा बालक
जिर्ण वस्त्र मां
©आरती परीख २७.९.२०१८