Archive | December 22, 2021

जिंदगी

अश्रु नीगल-
मुस्कुराते फिरते
जीवनभर
-आरती परीख २२.१२.२०२१

कवि/कवयित्री


कविता लिखी
ठिठुरते हाथों से
धूप से भरी
-आरती परीख २२.१२.२०२१