Archive | April 2020

मुस्कान

ताकतवर
प्रतिकूल काल में
मौन मुस्कान
_आरती परीख २८.४.२०२०

મહત્વ

સંબંધોનું
ઉદ્ભવ સ્થાન
એવું

મધ્ય બિંદુ
ગૌણ થવા લાગ્યું
મિત્ર વર્તુળ મોટું થતાં
_આરતી પરીખ
૨૭.૪.૨૦૨૦

LockDown

પંખીઓ માણે
ગગનચુંબી ગામે
મુક્ત વિહાર
_આરતી પરીખ ૧૫.૪ ૨૦૨૦

LockDown

StayHomeStaySafe

चंद्रमा

मधरात में
झील में तैर रहा
निगोडा चांद
© आरती परीख ११.४.२०२०

જૅટ લૅગ

તારી સ્મૃતિ યાત્રા

ને,

એના જૅટ-લૅગમાં જ

વીતી જશે

આ આયખું!

_આરતી પરીખ ૫.૪.૨૦૨૦

CORONA

बरसों बाद
महसूस कर रही..
.
दिल से जूडे
खुशहाल परिवार
.
गाँव की तरह ही
लंबी साँस भरता शहर
.
बेफिक्री से
मुक्त विहार में मस्त पशुपक्षी
.
बहुत दूर खडी
फिर भी चमकती पहाडियाँ
.
निर्मल हो रही
हर एक नदियाँ
.
मेरे प्यारे
भारत की धरती पर…!
.
_आरती परीख ५.४.२०२०

घर से ही इन्टरनेट द्वारा मिला #करो_ना