बसंत हाईकु

ठेका मिला है
बसंत शुरू करें
रंग-रोगन

~~
बसंत आया

सज-धज के

मस्त बाग-बगीचे

~~
राहें गेरुआ
पत्ता पत्ता गेरुआ
बसंत यहाँ

~~
बसंत रुप

फूलों पर नाचती

मृदु सी धूप

~~
दिल घराना
बसंत सुहावना
ईश्क तराना

~~
सिकुड़ रही–

बसंत खिलते ही

छाया की काया

~~
फागुनी हवा-
महक यहाँ तहाँ
मौसम जवाँ

~~
बसंत आया

महके जर्रा

जर्रा हर्षित धरा

~~
सूखा गुलाब
किताब में सिमटा-
बसंत राज

~~
बच्चें बनाते

रेत लकीरें

खींच- बसंत फूल

~~
पैड़ बिछाये-
बसंत स्वागत में
पीली पत्तियां
~~
दिशाएँ पीत
हवा गुनगुनाती
वासंती गीत
©आरती परीख

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s