Archive | January 16, 2019

राज

न तीर से,
न तलवार से,
न तेवर से,
हमें तो..
सबके ❤ में
राज करना है;
संस्कार से,
सभ्यता से,
सरलता से।
©आरती परीख १६.१.२०१९

Advertisements