शीत ऋतु

धूप के गाँव
लड़खड़ाते हुए
शीत के पाँव
~~
शीत प्रकोप
बर्फ कंबल ओढ़े
पहाड़ी खड़ी
~~
शीत लहर
सूरज सुलगाए
धूप अंगीठी
~~
नम्र हो चले
सूरज के तेवर
शीत लहर
~~
शीत लहर
पौधों पर नाचती
कच्ची सी धूप
~~
डाल डाल पे
श्वेत मोती परोये
शीत लहर
~~
क़ातिल हवा
ठिठुरती धरती
शीत आंगन
~~
मनभावन
आंगन में नाचती
शिशिर धूप
~~
शिशिर रात
चांदनी की चमक
ओंस चुराये
~~
सूरज ढला
जोश में आ गई
शीत लहर
~~
शीत लहर
श्वेत कंबल ओढ़े
धरती मैया
~~
शीत ॠतु में
सब की पहली चाह
धूप चादर
~~
शिशिर धूप
शीत लहरों संग
रेत में खेले
~~
कभी तपना
कभी है ठिठुरना
कैसी है धूप?!
~~
तन को प्यारी
आँगन में खेलती
जाड़ें की धूप
~~
धूप सवारी
खेत पर्बत गाँव
कोहरा भागा
~~
मोती सा व्हेम
दूर्वा पे बेठी ओंस
धूप पिगाले
~~
पेड़पौधों पे
शीत मारता चाँटे
धूप ममता

~~

धूंध से घिरे
शहर गांव गली
रवि निस्तेज

© आरती परीख

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s