मन मेल

आपका और हमारा 

मन मेल कैसे हो?!

आप मर मर के जीने की फिराक में है,

और यहां हम; 

मजेदार जीवन के बाद…

सबके दिल में 

सदा काल जींदा रहनेकी कोशिश में है!

© आरती परीख Arti Parikh

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s