Archive | December 17, 2017

नम्रता

प्यार 💝 से सब लोग पिघल जाते हैैं, 

फिझुल में ताकत 👊 क्युं व्यय करें?! 

© आरती परीख १७.१२.२०१७

☘मैत्री सभर दिन मुबारक☘