Archive | October 15, 2017

रात

​नीला अंबर

काला कम्बल ओढ़ें

शाम जो ढली

© आरती परीख १५.१०.२०१७

प्रभात

​नदियां नाले

सुनहरे बहते

प्रभात काल

####

सोना बांटते

प्रभा सूर्य किरणें

धरा चमकें

© आरती परीख १५.१०.२०१७