Archive | July 4, 2017

वर्षा

​मस्तानी हवा

नदियाँ हुई जवाँ

बारिश यहाँ

© आरती परीख ४.७.२०१७

Advertisements